IRS (आईआरएस ): Indian Revenue Service (इंडियन रिवेन्यू सर्विस)

जैसा कि app जानते हैं यूपीएससी के अंतर्गत aane वाले सभी पोस्ट में se सबसे ज्यादा रॉयल पोस्ट आईएएस aur आईपीएस  ko माना jata है, लेकिन आईएएस aur आईपीएस ऑफिसर ko सीधे आम लोग aur शासन व्यवस्था se इंटरेक्ट करना पड़ता hai , जिसके कारण kayi बार ये अफसर uncomfortable महसूस karte हैं, इसीलिए कई लोग upsc में टॉप rank होने पर भी irs सर्विस को चुनते हैं, ताकि unka पब्लिक इंटरैक्शन (public interaction) कम हो, aur वह office से देश के लिए काम kar sakte.

आईआरएस में दो शाखाएं शामिल हैं, भारतीय राजस्व सेवा (आयकर) और भारतीय Revenue Service (Custom and Indirect Taxes)

आईआरएस अधिकारी देश की प्रगति, सुशासन और सुरक्षा में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं क्योंकि इन सभी को देश में एक अच्छा कर संग्रह के माध्यम से प्राप्त किया जा सकता है।

IRS (आईआरएस ) का इतिहास

भारत में इनकम टैक्स की शुरुआत 1860 में अंग्रेजों द्वारा की गई थी, जिसे आजादी के बाद 1953 में इंडियन रेवेन्यू सर्विस के रूप में फिर से गठित किया गया

पात्रता (Eligibility)

जो छात्र आईआरएस अधिकारी बनने का सपना देखते हैं, उन्हें कुछ बुनियादी पात्रता शर्तों को पूरा करना आवश्यक है।

  • राष्ट्रीयता– भारतीय
  • आयु– न्यूनतम 21 वर्ष, अधिकतम 32 वर्ष (अनुसूचित जाति / अनुसूचित जनजाति और पीएच उम्मीदवारों के लिए आयु में छूट)
  • शैक्षिक योग्यता– किसी भी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से किसी भी विषय में स्नातक
  • प्रयासों की संख्या– सामान्य वर्ग के लिए 6, अन्य श्रेणियों के छात्रों के लिए छूट
See also  How to check Canara's bank balance in minutes

परीक्षा पैटर्न-

IRS और अन्य पोस्ट के लिए आयोजित UPSC परीक्षा में तीन चरण हैं-

  • प्रारंभिक (Preliminary)
  • मेंस (Mains)
  • साक्षात्कार

आईआरएस रैंक, वेतन और पदोन्नति

आईआरएस रैंकवेतनमान
सहायक आयकर आयुक्तRs. 15,600-39,100ग्रेड पे Rs.5,400
डिप्टी कमिश्नर ऑफ इनकम टैक्सRs. 15,600-39,100Grade pay of 6600
संयुक्त आयकर आयुक्तRs. 15,600-39,100Grade pay of 7600
अतिरिक्त आयकर आयुक्तRs. 37,400-67,000Grade pay of 8700
आयकर आयुक्तRs. 37,400-67,000Grade pay of 10,000
प्रधान आयकर आयुक्तHAGscale of 67,000-79,000
मुख्य आयकर आयुक्तHAGthe scale of 75,500–80,000
प्रधान मुख्य आयकर आयुक्तRs. 80,000 (fixed)
कैबिनेट सचिव (उच्चतम)Rs. 90,000 (fixed)

लोगों का मानना है और अक्सर ऐसा देखा गया है, कि आईआरएस ऑफिसर को प्रमोशन मिलने में आईपीएस और आईएएस ऑफिसर से ज्यादा साल लग जाता है

IRS (आईआरएस ) को मिलने वाली सुविधाएं

आईआरएस की नौकरी एक रॉयल जॉब माना जाता है, क्योंकि इसमें अच्छी सैलरी के साथ बहुत सारी अच्छी सुविधाएं भी सरकार के तरफ से मिलती हैं

किसी इंडियन रिवेन्यू सर्विस के ऑफिसर को मिलने वाली कुछ प्रमुख सुविधाएं निम्न है-

  • निवास- नौकरानी, माली और सुरक्षा के साथ बंगला
  • परिवहन- ड्राइवर के साथ कार
  • बिल- पानी, बिजली, मोबाइल जैसे सभी बिल
  • पेंशन- सेवानिवृत्ति के बाद आजीवन पेंशन
  • यात्राएं- भारत और विदेश में मुफ्त पारिवारिक यात्राएं

आईआरएस अधिकारी की जिम्मेदारियां

  • आईआरएस अधिकारी का सबसे मुख्य काम उन सारे कदमों को उठाना होता है जिससे ज्यादा से ज्यादा टैक्स कलेक्शन सुनिश्चित हो सके
  • अगर किसी व्यक्ति या कंपनी द्वारा भरे गए टैक्स में किसी तरह की कोई गलती नजर आती है तो उसे ठीक करने के लिए जरूरी कदम उठाना भी आईआरएस ऑफीसर का एक जरूरी काम है
  • किसी तरह के घोटाले की को उजागर करना और उसकी जांच करना
  • आईआरएस अधिकारियों की पोस्टिंग देश की सीमा और इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर की भी की जाती है, ताकि वे किसी भी तरह की तस्करी को रोक सके और देश को आर्थिक नुकसान से बचा सके
  • देश की टैक्स व्यवस्था में समय के साथ सुधार के लिए जरूरी कदम उठाना भी इंडियन रिवेन्यू सर्विस के अधिकारियों का एक महत्वपूर्ण काम है
See also  How do I download my Capital First Loan statement online?

आईआरएस  अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न-

आईएएस और आईआरएस में कौन बेहतर है

देखा जाए तो कई तरह से आईएएस आईआरएस से बेहतर है.
एक आईएएस अधिकारी को ज्यादा बड़ा कार्यक्षेत्र मिलता है, जिसमें उसे डायरेक्टली लोगों के लिए काम करने का मौका मिलता है
वही आईएएस अधिकारी की सैलरी भी आईएएस अधिकारी के मुकाबले थोड़ा ज्यादा होती है, और अधिकारी का प्रमोशन भी आईएएस अधिकारी के मुकाबले जल्दी हो जाता है
जैसे कि एक आईएएस अधिकारी को कमीशन बनने के लिए लगभग 16 साल समय लगता है जबकि आईआरएस अधिकारी को 20 से 22 साल लग जाता है

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *